Enter your email address: कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई भी अवश्य करें

कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई करें

“ऊंट बिलैया ले गई,”
“सो हांजू- हांजू कइये”

बुंदेली के महान कवि श्री जगन्नाथ सुमन, तहसील मउरानीपुर के पास स्थित पचवारा गांव के निवासी थे। उनकी यह रचना आज के परिवेश पर बुंदेली मे कलात्मक व्यंग्य है।
कविता की पहली लाइन का अर्थ है –
बड़ा आदमी या आपका अफसर कुछ भी कहे, आप बस उसकी चमचागिरी करो और फायदा उठाओ जैसे यदि उसने कहा कि “बिल्ली ऊँट को उठा ले गई,” तो विरोध मत कीजिए बल्कि “हाँ-जी, हाँ-जी’ कहिये।

इस मजेदार व्यंग रचना का आप भी आनंद उठाइये

===============
ऊँट बिलइया लै गई,
सो हाँजू~हाँजू कइये!

जी के राज में रइये,
ऊकी ऊसी कइये,
ऊँट बिलइया ले गई,
सो हाँजू-हाँजू कइये!

गाय दुदारू चइये,
तौ दो लातें भी सइये,
तनक चोट के बदले,
फिर घी की चुपरी खइये!

घपूचन्द्र की जनी कंयै,
कि सुनलो मोरे संइयाँ,
राजनीति में घुसबौ कौनउ,
हाँसी ठट्ठा नइयाँ!

घुसनै होबै कन्त तुमै,
तौ चमचा बनलो प्यारे,
जो कोउ दिन खों रात कबै,
तौ तुम चमका दो तारे!

हऔ में हऔ मिलाकें,
फिर मन चाऔ पद लइये,
ऊँट बिलइया लैगई,
सो हाँजू – हाँजू कइये!

बगुला नाईं बदलवौ सीखो,
छलो और खुद छलवौ सीखो,
बड़े-बड़ेन में बसबौ सीखो,
मौका परै तौ फँसबौ सीखो,

रोबौ सीखो, हँसबो सीखो,
भीड़-भाड़ में ठसबौ सीखो,
शीत-घाम औ मेह परै,
तौ सेंग सवेरे सइये!

ऊँट बिलइया लैगई,
सो हाँजू – हाँजू कइये!

हाँजू सें खुश हैं चपरासी,
साहब की मिट जाय उदासी,
पानी प्यादै पूत बिलासी,
मालिक की घुरिया है प्यासी!

इमली खौं जो आम बतावैं,
अपनी हाँकें और हँकाबैं,
तुम इमली में आम फरादो,
उनें आम कौ स्वाद चखादो!

पंड़ित मुल्ला औ बाबा जू,
सबई करत हैं हाँजू – हाँजू,
बड़ो मजा है ई हाँजू में,
हाँजू सें मिलतई है काजू!

जोऊ खुआवे घरे टेरकें,
तौ दचेर कें खइये,
ऊँट बिलइया लैगई,
सो हाँजू – हाँजू कइये!

हाँजू कै कें चमके चमचा,
बदले उनके ठेला खुमचा,
जो मारत ते मक्खी-मच्छर,
लगे खरीदन घोड़ा – खच्चर!

बिगरौ काम संवर जै सबरौ,
हाँजू भर कै दइये,
ऊँट बिलइया लैगई,
सो हाँजू – हाँजू कइये!

Enter your email address: कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई भी अवश्य करें

कृपया अपने ई-मेल इनबॉक्स मे वेरिफ़िकेशन लिंक पर क्लिक करें और सब्सक्रिप्शन को वेरीफाई करें
Previous articleWe hope you’re doing well.
Next article#Lockdown
दोस्तों नमस्कार मेरा नाम राहुल है मुझे नई नई जानकारियां एकत्र करना तथा आप लोगों के साथ शेयर करना पसंद है इस ब्लॉग पर हर रोज एक नया आर्टिकल पोस्ट करता हूं जो कि आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकता है अगर आप भी indohindi.in की टीम में शामिल होना चाहते हैं तो आप हमें [email protected] पर मेल कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here